मध्यकालीन भारतीय इतिहास का कार्यकाल (712 से 1761) | Medieval India Timeline

मध्यकालीन भारत का इतिहास का कार्यकाल

Medieval Indian history Timeline: 8 वीं से 12 वीं शताब्दी के समय को मध्ययुगीन काल (medieval India timeline) के रूप में जाना जाता है। यह भारतीय उपमहाद्वीप (Indian subcontinent) में पोस्टक्लासिकल एरा (Postclassical Era: 600 CE to 1450 CE) का संदर्भ देता है।

इसे दो अवधियों में विभाजित किया गया है- प्रारंभिक मध्ययुगीन काल (early medieval period) और बाद के मध्यकाल (later medieval period)।

UPSC IAS परीक्षा के लिए भारतीय इतिहास (important Indian history) एक महत्वपूर्ण विषय है। जिसे तीन खंडों में विभाजित किया गया है- प्राचीन इतिहास (ancient history), मध्यकालीन इतिहास (medieval history) और आधुनिक इतिहास (modern history)

विगत वर्षों में यूपीएससी ने मध्यकालीन भारत से सवाल पूछे जाने वाले मध्ययुगीन कार्यकाल/ क्षेत्र से कला और संस्कृति के संबंध में प्रश्न पूछे जाते हैं। यहां UPSC IAS परीक्षा के लिए मध्यकालीन भारत इतिहास कार्यकाल (medieval India timeline list) की सूची दी गई है:-

medieval India timeline, History of Medieval India, medieval history of India, medieval India upsc, medieval period in India, India satish Chandra medieval India
Medieval India Timeline UPSC History Notes

Medieval India Timeline (712 से 1761 तक)

712मोहम्मद-बिन-कासिम (अरब) द्वारा सिंध पर पहला आक्रमण

836कन्नौज के राजा भोज का प्रवेश

985चोल शासक राजराजा का प्रवेश

998 – सुल्तान महमूद गजनी का प्रवेश

1001 – महमूद गजनी द्वारा भारत पर पहला आक्रमण, जिसने पंजाब के शासक जयपाल को हराया

1025महमूद गजनी द्वारा सोमनाथ मंदिर का विनाश

1191पृथ्वीराज चौहान और सुल्तान मोहम्मद गोरी के बीच तराइन / तरौरी की पहली लड़ाई

1192 तराइन की दूसरी लड़ाई

1206 – कुतुबुद्दीन ऐबक का उत्तराधिकार

1210 कुतुबुद्दीन ऐबक की मृत्यु

1221मंगोल आक्रमण : चेंगिज़ खान ने भारत पर आक्रमण किया

1236 – दिल्ली की संप्रभुता के लिए रजिया सुल्ताना का उत्तराधिकार

1240रजिया सुल्ताना की मौत

1296अलाउद्दीन खिलजी का प्रवेश

1316 अलाउद्दीन खिलजी की मृत्यु

1325मुहम्मद-बिन-तुगलक का प्रवेश

1327 – राजधानी दिल्ली से देवगिरी (दौलताबाद) स्थानांतरित की गई मुहम्मद-बिन-तुगलक द्वारा

1336 – दक्षिण में विजयनगर साम्राज्य की नींव

1351फिरोजशाह तुगलक का प्रवेश

1398 तैमूर का भारत पर आक्रमण

1469गुरु नानक का जन्म

1494फरगाना में बाबर का प्रवेश

1497वास्को डी गामा का भारत में पहला अभियान

1526पानीपत की पहली लड़ाई : बाबर ने इब्राहिम लोधी को हराया : बाबर द्वारा मुगल वंश का फाउंडेशन

1527खानवा-बाबर की लड़ाई ने राणा साँगा को हराया

1530बाबर की मृत्युहुमायूँ का प्रवेश

1539चौसा का युद्ध : शेरशाह सूरी ने हुमायूँ को हराया : शेरशाह सूरी भारत का सम्राट बन गया

1555हुमायूँ ने दिल्ली के सिंहासन को पुनः प्राप्त किया.

1556 पानीपत की दूसरी लड़ाई

1556तालीकोटा की लड़ाई

1576हल्दीघाटी का युद्ध : राणा प्रताप को अकबर ने हराया था

1582दीन-ए-इलाही की स्थापना अकबर ने की थी

1600 – अंग्रेजी ईस्ट इंडिया कंपनी की स्थापना

1605अकबर की मृत्यु और जहाँगीर का परिग्रहण

1606 गुरु अर्जुन देव का शोषण : गुरु अर्जुन देव सिखों के 5 वें गुरु थे

1615सर थॉमस रो ने जहाँगीर से मुलाकात की

1627शिवाजी का जन्म : जहाँगीर की मृत्यु

1628 – शाहजहाँ भारत का सम्राट बना

1631 मुमताज की मौत

1634 – अंग्रेजों ने बंगाल में व्यापार करने की अनुमति दी

1659 औरंगज़ेब का प्रवेश : शाहजहाँ कैद

1665शिवाजी को औरंगजेब ने कैद कर लिया

1666शाहजहाँ की मृत्यु

1675गुरु तेगबहादुर का निष्पादन : गुरु तेग बहादुर सिखों के 9 वें गुरु थे

1680शिवाजी की मृत्यु

1707औरंगजेब की मृत्यु

1708 – गुरु गोविंद सिंह की मृत्यु : गुरु गोविंद सिंह सिखों के 10 वें गुरु थे

1739नादिर शाह ने भारत पर हमला किया

1757 प्लासी का युद्ध. भारत में ब्रिटिश राजनीतिक शासन की स्थापना

1761 पानीपत की तीसरी लड़ाई

इन्हें भी पढ़ें
विषय संबंधित पोस्ट
Content Protected.!